आज का जमाना बेहद ही आगे निकल चुका है वहीं अगर बात करें आजकल के युवाओं की तो इनका तो कोई जवाब ही नहीं है हर चीज में आगे निकलते जा रहे युवा कई मामले ऐसे देखने को मिल रहे हैं जो वाकई में बेहद ही चौंका देने वाले है। जी हां आपने प्‍यार, मोहब्‍बत और आकर्षण जैसी तमाम बातें सुनी होगी लेकिन आज हम आपको जो बताने जा रहे हैं उसे सुनकर शायद आपको यकीन नहीं होगा।

दरअसल सबसे पहले तो ये बता दें कि हमारे समाज में ये माना जाता है कि शादी के बाद महिलाओं के चेहरे पर काफी निखार आ जाता है और वो और भी ज्‍यादा खुबसूरत लगने लगती है शायद यही कारण है कि कुंवारे लड़के उनकी तरफ जल्दी आकर्षित हो जाते हैं। ऐसे ही जब शादी के काफी समय बाद रिश्ते में पहले जैसा प्यार नहीं रहता तो पति या पत्नी भी बाहर रिश्ता तलाशते हैं।

कई बार देखा जाता है कि शादीशुदा महिलाएं सिंगल महिलाओं के मुकाबले अधिक आत्मविश्वासी होती हैं, जिसके चलते वे पुरुषों को प्रभावित कर पाती हैं और उनमें जाने-अंजाने अपने प्रति ना चाहते हुए भी अट्रैक्शन पैदा कर देती हैं। शादीशुदा महिलाएं पुरुष की साइक्लोजी को बेहतर ढंग से समझ पाती हैं और उनकी भावनात्मक जरूरतों के हिसाब से काम करती हैं।

इस कारण शादीशुदा महिलाएं भी दूसरों को अपनी तरफ जल्दी आकर्षित कर लेती हैं। लेकिन क्‍या आपको पता है पुरूष ही नहीं बल्‍कि महिलाएं भी इनसब में कम नहीं हैं तभी तो आए दिन आप अखबारों व टीवी पर भी एक्सट्रा मैरिटल अफेयर की खबरें काफी सुनने को मिलती होंगी वहीं आपको ये भी बता दें कि जब कोई कुंवारा लड़का या लड़की किसी शादीशुदा की तरफ आकर्षित हो जाते हैं तो उन्हें कुछ बातों को ध्यान में जरूर रखना चाहिए।

तो आइए जानते हैं कौन कौन सी हैं वो बातें

सबसे पहले तो आपको बता दें कि जब भी कोई शादीशुदा महिला की तरफ आकर्षित हो जाए तो उसे अपना कदम आगे बढ़ाने से पहले 10 बार सोचना चाहिए क्योंकि इसतरह के रिश्‍ते का कोई भविष्‍य नहीं हेाता है।

वहीं ध्‍यान रहे कि अगर आप इस तरह की महिला के प्‍यार में पड़ जाएं तो रिश्ते से बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है लेकिन वहीं इसके अलावा आप ध्‍यान रखे की इस रिश्ते में शारीरिक संबंध बनाने का सपना न रखें क्‍योंकी इससे रिश्ता काफी मजबूत हो जाता है और बाद में अलग होना बेहद ही मुश्‍िकल हो जाता है।

कई बार ऐसा भी होता है की एक ही जगह साथ काम करते वक्त लड़के अपने कलीग्‍स की तरफ आकर्षित हो जाते हैं चाहे वो कुंवारी हो या फिर शादीशुदा लेकिन उन्‍हें ये नहीं पता होता है की उनका ये कदम उन्‍हें किस मुकाम पर खड़ा कर सकता है। क्योंकि आगे जाकर इस रिश्‍ते में शादी की कोई गुंजाइश नहीं होती है।

ध्‍यान रहे कि कभी भी किसी शादीशुदा महिला के साथ रिश्ता बनाने से पहले मन को पूरी तरह से संभाल कर रखना चाहिए और उससे यह उम्मीद नहीं रखनी चाहिए कि वह अपने पति और घर परिवार को छोड़ कर आपके पास आ जाए क्योंकि महिला कभी भी आपको अपनी जिदंगी से जाने के लिए बोल सकती।